shashwat bol

kahte sunte baaton baaton me ...

86 Posts

77 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 19050 postid : 873254

किसान कठपुतली है क्या !

  • SocialTwist Tell-a-Friend

आप के सभा स्थल के समीप ही किसान गजेन्द्र सिंह ने आत्महत्या कर ली.खबरों की हकीकत के मद्देनजर आप पार्टी के बड़े नेतागण मंच पर आसीन ही नहीं थे बल्कि गजेन्द्र उनकी संज्ञान में दृस्टिगत भी था .जिस प्रकार की संवेदनशून्य कार्यवाही आप के नेताओ ने साफ़ तौर पर जारी रखी वह सवाल नहीं जनता के भारी समर्थनं को ही कटघरे में ला के बंदी जैसा बन जाना ही लगता है .चाहे हम सब कितनी भी बखिया उधेड़ दें परन्तु यह तय है की किसान गजेन्द्र अब वापस हरगिज नहीं लाया जा सकता . मामले की तस्वीरों और वक्तव्यों से दिखता है की राजनीति में किसान कठपुतली बनाया जा रहा है .क्योंकि आप पार्टी स्वयं दिल्ली की सरकार – कर्ताधर्ता ही है .अगर पुलिस प्रशासन इस घटना के लिए गुनहगार बताई जा रही हो तो ये कोई विदेश की सेवा संस्था तो नहीं है न .अपने मातहत प्रशासन पर छात्रसंघ की नेताओं के माफिक आरोप लगा देना भर से दाग छुपता तो हरगिज नहीं ही है उलटे स्पस्ट हो गया की पहले बार जैसे ही ” आप ” की सत्ता में विधायिका और कार्यपालिका में सामंजस्य तो नहीं ही है .किसान के हक़ की चादर ओढ लेने मात्र से इस वर्ग का भला नहीं हो सकता . amit shashwat

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

3 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Shobha के द्वारा
April 23, 2015

नहीं किसान अन्नदाता है बहुत अच्छे विचार डॉ शोभा

amitshashwat के द्वारा
April 23, 2015

ji dhanvaad .

amitshashwat के द्वारा
April 23, 2015

jee dhanvaad .


topic of the week



latest from jagran